Prit

Prit

ख़ुदा जाने, ख़ुदा कैसा, ख़ुदा को किसने देखा है
कहो, तुम भी ख़ुदा मां–बाप को ही मानते हो ना

  • Sher
  • Ghazal
  • Nazm

LOAD MORE

More Writers like Prit

How's your Mood?

Latest Blog

Upcoming Festivals