Buy e-book 📕

Poetistic E-book "Explained" is here! 50 Ghazals, Explained with Behr

Welcome 👋🏼

A one-stop platform for aspirant poets to get published and engage with their audience

Get Published ✍️

A 2-step seamless process to get published instantly.

Featured Sher

Latest Blog

शायरी और नज़्म

शायरी और नज़्म

नज़्म जैसी कोई दूसरी विधा भी नहीं हैं, इसका अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते हैं कि बड़े बड़े शाइर जो रंज, जंग, रक़ीब, माशूक आदि पर ग़ज़लें लिख कर तंज़ कसते हैं, वो भी तरन्नुम में नज़्म गाने को मज़बूर हो जाते हैं। यही है नज़्म की ख़ूबसूरती।

Atul Singh

Atul Singh

June 30, 2022

Writers

Upcoming Festival

National Doctors' Day

July 1, 2022

आँधियों से लड़ रहे हैं जंग कुछ काग़ज़ के लोग
हम पे लाज़िम है कि इन लोगों को फ़ौलादी कहें

  • 15 Sher
Read all