Akbar Allahabadi

Akbar Allahabadi

हम आह भी करते हैं तो हो जाते हैं बदनाम
वो क़त्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होता

  • Sher
  • Ghazal

LOAD MORE

More Writers like Akbar Allahabadi

How's your Mood?

Latest Blog

Upcoming Festivals