Sudhakar 'Salim'

Sudhakar 'Salim'

कॉल कर लूं तुझे, रोज बस मैं यही सोचता हूं
पर करूं भी तो किस हक़ से अब, मैं ये भी सोचता हूं

  • Sher
  • Ghazal
  • Nazm

LOAD MORE

More Writers like Sudhakar 'Salim'

How's your Mood?

Latest Blog

Upcoming Festivals