"Nadeem khan"

"Nadeem khan"

सर्द हवाएँ, ये दिसम्बर और उसकी याद
आग लगे सबको, चलो चाय पीते हैं

  • Sher
  • Ghazal
  • Nazm

LOAD MORE

More Writers like "Nadeem khan"

How's your Mood?

Latest Blog

Upcoming Festivals