aaj maine apna phir sauda kiya | आज मैंने अपना फिर सौदा किया - Javed Akhtar

aaj maine apna phir sauda kiya
aur phir main door se dekha kiya

zindagi bhar mere kaam aaye usool
ek ik kar ke unhen becha kiya

bandh gai thi dil mein kuchh ummeed si
khair tum ne jo kiya achha kiya

kuchh kami apni wafaon mein bhi thi
tum se kya kahte ki tum ne kya kiya

kya bataaun kaun tha jis ne mujhe
is bhari duniya mein hai tanhaa kiya

आज मैंने अपना फिर सौदा किया
और फिर मैं दूर से देखा किया

ज़िंदगी भर मेरे काम आए उसूल
एक इक कर के उन्हें बेचा किया

बँध गई थी दिल में कुछ उम्मीद सी
ख़ैर तुम ने जो किया अच्छा किया

कुछ कमी अपनी वफ़ाओं में भी थी
तुम से क्या कहते कि तुम ने क्या किया

क्या बताऊँ कौन था जिस ने मुझे
इस भरी दुनिया में है तन्हा किया

- Javed Akhtar
4 Likes

Motivational Shayari

Our suggestion based on your choice

More by Javed Akhtar

As you were reading Shayari by Javed Akhtar

Similar Writers

our suggestion based on Javed Akhtar

Similar Moods

As you were reading Motivational Shayari Shayari